फेफड़ों को करे साफ | कफ और बलगम होगा दूर , धुआं और गन्दगी नहीं रहेगा फेफड़ों में

फेफड़ों को करे साफ, दोस्तों आजकल के इस दौर में एयर क्वालिटी का जो हाल है वह किसी से छुपा हुआ नहीं है हम सब जानते हैं कि न सिर्फ अर्बन सिटी इसमें ना सिर्फ मेट्रो सिटीज में बल्कि अब तो छोटेछोटे शहरों और कस्बों के अंदर भी जो एयर क्वालिटी है। वह बहुत ही ज्यादा खराब स्तर तक पहुंच चुकी है। इनका इमरजेंसी लेवल तक पहुंच चुकी है और यही वजह है कि इंडिया में हर दूसरे तीसरे इंसान के अंदर ब्रीदिंग प्रॉब्लम्स और इस तरह की अलग अलग ढंग से रिलेटेड प्रॉब्लम्स जन्म लेने लगे हैं

फेफड़ों को करे साफ

जैसे कि अस्थमा है या सीओपीडी है या फिर ब्रोंकाइटिस है या फिर इस तरह की और दूसरी प्रॉब्लम तो आज की आर्टिकल में दोस्तों में आपको बताऊंगा। एक बहुत ही नेचुरल हर्बल डिटॉक्स टी के बारे में जो कि आप अपने घर में ही कुछ मौजूद चीजों की मदद से बना सकते हैं और यदि आपके ना सिर्फ लंच को डिटॉक्सिफाई करेगी बल्कि आप के लंच की जरूरत होती है, उसको भी इनक्रीस करेगी। आपकी लंच कैपेसिटी को भी बढ़ाएगी और। लंच के अंदर जमा हुई जो इंप्योरिटी है

चाहे वह पोल्यूटेंट की शक्ल में हूं। चाहे वह बलगम की शक्ल में हो, चाहे वह टायर की शक्ल में हो। अगर आप स्मोकिंग करते हैं तो उस केस में इन सभी चीजों को क्लियर करने में भी आपको काफी ज्यादा मदद करेगी और आपको लंच को हेल्दी बनाए रखेगी तो चलिए दोस्तों बिना किसी देरी के इस वीडियो को शुरू करते हैं। मेरा नाम है। डॉक्टर सलीम और आप देख रहे हैं। आपका अपना यूट्यूब चैनल हेल्थी हमेशा आपको आगे भी मिलती रहेगी। किसी के साथ अगर यह वीडियो आपको पसंद आए तो इसे लाइक भी जरूर कर दीजिएगा की बात पर आते हैं और। बात करते हैं अपने लंड को इस टेंशन करने के लिए दोस्तों जो हम लोग करते हैं, चाहे वह एक्टिव स्मोकिंग हो, चाहे वह पैसिव स्मोकिंग हो। एक्टिंग का मतलब है कि आप खुद ही सिगरेट पी रहे हैं

फेफड़ों को करे साफ

और पैसे उसमें क्या आप किसी ऐसे शख्स के पास बैठे हैं जो स्मोकिंग कर रहा है और वह दुआ आप के लंच के अंदर जा रहा है या फिर हम किस जगह पर रहते हैं जहां परमिशन है आजकल के जमाने में या फिर हमें कोई ऐसी रेस्पिरेटरी इलनेस है जैसे कि अस्थमा सीओपीडी जिसकी वजह से हमारे अंक हो गए हैं तो इन सभी के साथ में क्या होता है कि हमारी जो एयरवेज होते हैं। इन्हीं सांस की नालियां होती हैं। उनके अंदर बलगम जमा होना शुरू हो जाता है।

यह बलराम धीरे-⁠धीरे ओवर द पीरियड ऑफ टाइम ठीक होने लगता है। इसका वॉटर कंटेंट कम होने लगता है और इसकी क्वांटिटी भी बढ़ने लगती है। उसकी वजह से क्या होता है कि जो हमारे एयरवेज के अंदर का सरफेस है उस पर यह बलगम छुपाते छुपाते छुपाते उस रास्ते को तंग कर देता है और जो साथ जाने का रास्ता होता है। वह बहुत पतला सा हो जाता है। ऐसे समझ लीजिए जैसे इतना बड़ा आपका घर एयरवे है। यह आपका एयरवे है।

फेफड़ों को करे साफ

अगर इसमें ओवर द पीरियड टाइम 121 साल में 2 साल में बलगम जमुना शुरू हो जाएगा तो धीरे धीरे धीरे शुरू हो जाएगा और यह जब तक होगा तो उसकी वजह से हमें सांस लेने में प्रॉब्लम होगी और फेफड़ों से रिलेटेड अलग-⁠अलग तरह की प्रॉब्लम समय पैदा होने शुरू हो जाएंगे। ड्रिंक आज हम बनाएंगे रोटी हम बनाएंगे। यह इसी काम को करेगी। इससे बलगम के जमने के प्रोसेस को कम करेगी। अगर ऑलरेडी हमारे फेफड़ों के अंदर एवं केंद्रीय बलगम जम चुका है। सांस की नालियां तंग हो चुकी है

तो उनको साफ करने का क्लियर करने का काम करेगी और हमारी लंके बस्ती को ईयर की जो कैपेसिटी हमारी लाइफ में उसको बढ़ाने का काम करेंगे, जिसकी वजह से हमारे जल्दी रह पाएंगे हमें साथ लेने में कोई प्रॉब्लम नहीं होगी और अलग कहां की जो बीमारियां होती हैं, उनसे हम बचे रहेंगे तो हमें चाहिए। पहली चीज हमें चाहिए होगी वह है जिंजर अदरक दूसरी चीज हमें चाहिए। लेमन तीसरी चीज चाहिए।

फेफड़ों को करे साफ

हमें मुलेठी चौथी चीज हमें चाहिए। बड़ी, इलायची और पांचवी चीज हमें चाहिए। हनी पांचवे सेकंड ग्रेड एंड है जिसकी मदद से आज समिति को बनाएंगे जहां तक माता दी है। एसपी के अंदर इस्तेमाल होने वाले इन रीजेंट कि इसे किसी की तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि जिंजर जो होता है दोस्तों यह Anti inflammatory होता है और यह हमारी अलग होते हैं। उसके अंदर से इंफॉर्मेशन को कम करके कब और कंजेशन को कम करने का काम करता है। बिल्डिंग में हमें आसानी पैदा करता है।

दूसरी जिसमें हम इस्तेमाल कर रहे हैं, वह है मुलेठी मुलेठी के अंदर एंटीवायरल और एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होती हैं और यह एक्स्ट्रा टोरेंट होता है। यदि हमारी जो उसके अंदर बलगम जम जाता है, उसको पतला करके निकालने का काम करता है। मुलेठी हमारे एयरवेज को रिलायंस भी करता है जिसकी वजह से जो कंजेशन होता है, सांस लेने में दिक्कत होती है या अस्थमा जैसी प्रॉब्लम्स होते हैं

उसमें हमें काफी हेल्प मिलती है तीसरी चीज उसमें हम इस्तेमाल करते हैं। दोस्तों वह है लेमन लेमन के अंदर विटामिन सी होता है जो हमारी इम्यूनिटी को बूस्ट करने का काम करता है। चौथी ची जोश में हम इस्तेमाल कर रहे हैं। वह है बड़ी इलायची

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.